तालाब की बातें

तालाब की बातें
जल है तो जीवन है

रविवार, 15 मार्च 2015

Some books to understand ideology of Bahgat Singh








कुछ पुस्‍तकें कामरेड भगत सिंह को समझने के लिए
23 मार्च आने वाला है, कामरेड भगत सिंह का शहादत दिवस, एक फैशन की तरह लोग उन्‍हें याद करेंगे  लेकिन उन्‍हें कुछ सांप्रदायिकरंग देंगे तो कुछ सियासती, हकीकत में सरदार कोई बम या बंदूक नहीं था, वह विचारों का ज्‍वालामुखी था, उसके पास एक समानता, समाजवाद के सपनों वाला देश था, केवल सरकार बदलने वाली आजादी नहीं थी उसके संकल्‍प में .
मैं कुछ पुस्‍तकें सुझा रहा हूं , यदि ववास्‍तव में भगत सिंह को प्‍यार करते हैं तो इन्‍हें पढें, उन्‍हें समझें व उसके सपनों की हकीकत व आज के मुल्‍क की नीति व दशिा पर विचार करें, नारें ना लगाएं
1. भगत सिंह के संपूर्ण दस्‍तावेज, संकलन  चमन लाल, आधार प्रकाशन, 267, सेक्‍टर 16 पंचकुला हरियाणा 131113 ' हालांकि भगत सिंह के दस्‍तावेजों की शुरूआती किताब शिव वर्मा ने संकलित की थी जिसकी भूमिका टी जी रणदिवे ने लखिी थी व उसे स्‍वतंत्रता संग्रामशोध संस्‍थान लखनउ ने छापा था
2. अमर शहीद सरदार भगत सिंह, जितेन्‍द्रनाथ सान्‍याल, नेशनल बुक ट्रस्‍ट, इंडिया, नई दिल्‍ली, यह पुस्‍तक अंग्रेज सरकार द्वारा जब्‍त कर ली गई थी ,
3. भगत सिंह ए जीवन और विचार, हंसराज रहबर, भगत सिंह विचार मंच, नवीनशाहदरा, दिल्‍ली 32, यह पुस्‍तक अच्‍छी है लेकिन लेखक का नेहरू के प्रति पूर्वाग़ह गाली गलौज के स्‍तर तक खटकता हेा
4. भगत सिंह को फांसी, मलवेन्‍दरजीत सिंह वढैच, गुरूदेव सिंह सिदधू, राजकमल प्रकाशन, नई दिल्‍ली
5. भगत सिंह और स्‍वतंत्रता संग्राम, रघुबीर सिंह, राधा प्रकाशन, अंसारी रोड दरिया गंज, नई दिल्‍ली, यह बेहतरीन शोध ग्रंथ है
6. बटुकेश्‍वर दत्‍त, अनिल वर्मा,नेशनल बुक ट्रस्‍ट, इंडिया, नई दिल्‍ली, भगत सिंह के सबसे करीबी दोस्‍त की जीवनी सरदार के जहीवन को गहराई से झांकने का अवसर देती है
7. मैं नास्तिक क्‍यों हूं, नेशनल बुक ट्रस्‍ट, इंडिया, नई दिल्‍ली
8. भगत सिंह के राजनीतिक दस्‍तावेज, चमन लाल, नेशनल बुक ट्रस्‍ट, इंडिया, नई दिल्‍ली, इस पुस्‍तक में भगत सिंह की गुरूमुखी, हिंदी, अंग्रेजी व उर्दू में हस्‍तलिपि के साथ साथ कई दुर्लभ लेखनी भी मिलेंगी
9.  भगत सिंह के सहयेागी, शिव वर्मा, प्रमोद कुमार नेशनल बुक ट्रस्‍ट, इंडिया, नई दिल्‍ली, यह पुस्‍तक भगत सिंह के सबसे करीबी दोस्‍त रहे  शिवदा की जीवनी है लेकिन इसमें सहयात्री भगत सिंह ही है
10. भगत सिंह और उनके साथियों की विचारधारा और राजनीति, बिपन चंद्रा, राहुल फाउंडेशन, लखनउ
11 भगत सिंह और उनके साथी, अजय घोष, गोपाल ठाकुर राहुल फाउंडेशन, लखनउ
12. इक्‍कसवी सदी में भगत सिंह , रवि भूषण राहुल फाउंडेशन, लखनउ
13. शहीदेआजम की नोटबुक, दुर्लभ दस्‍तावेज,राहुल फाउंडेशन, लखनउ
14. जाति धर्म के झगडे छोडो, भगत सिंह, जनचेतना, लखनउ
15 भगत सिंह ने कहा ,भगत सिंह, जनचेतना, लखनउ
16. क्रांतिकारी कार्यक्रम का मसविदा, भगत सिंह, जनचेतना, लखनउ
17. बम का दर्शन और अदालत में बयान भगत सिंह, जनचेतना, लखनउ
18. नौजवानों के नाम शहीदे आजम भगत सिंह का संदेश , गार्गी प्रकाशन, सहारनपुर
इसके अलावा --''संस्‍म़तियां'' शिव वर्मा भी महत्‍वपूर्ण पुस्‍तक है, इसे भी नेशनल बुक ट्रस्‍ट ने छापा है
यह सभी पुस्‍तकें कुल मिला कर दो हजार से ज्‍यादा की नहीं होंगी, हर शहर कस्‍बे में एक सैट जमा करें व दोस्‍तों, परिवार  के साथ साझा करें , इस पर विमर्श करें, सार्वजनिक पाठ करें
भगत सिंह के कुछ लेख मेरे ब्‍लॉग पर इस स्‍थान पर जरूर पढें http://pankajbooks.blogspot.in/…/in-memory-of-shahid-bhagat…

मेरे बारे में